Chaitra Navratri 2022 : नौ दिनों तक राशि के अनुसार करें मंत्र का जाप, शीघ्र पूरी होगी कामना

2 अप्रैल से चैत्र नवरात्रि के व्रत प्रारंभ होने जा रहे हैं. नवरात्रि के दिन माता दुर्गा की विशेष साधना के दिन होते हैं. ऐसे में आप अपनी कोई कामना की पूर्ति चाहते हैं तो राशि के अनुसार मंत्रों का जाप करें. इससे शीघ्र फल प्राप्त हो सकता है.

Chaitra Navratri 2022 : नौ दिनों तक राशि के अनुसार करें मंत्र का जाप, शीघ्र पूरी होगी कामना

मां दुर्गा (Maa Durga) की विशेष पूजा के दिन आने में कुछ ही दिन बाकी हैं. 2 अप्रैल शनिवार के दिन से   चैत्र नवरात्रि  (Chaitra Navratri) के व्रत प्रारंभ हो जाएंगे. इन नौ दिनों में माता के भक्त घटस्थापना करते हैं, माता की नियमित विधि विधान से पूजा करते हैं, विशेष मंत्र, दुर्गा सप्तशती आदि पाठ करके माता को प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं. कहा जाता है कि इन नौ दिनों में यदि श्रद्धापूर्वक माता की पूजा की जाए तो आपको उनकी कृपा जरूर प्राप्त होती है और इससे आपके सारे मनोरथ सिद्ध हो जाते हैं. अगर आपकी भी कोई विशेष कामना है जिसे इस बार नवरात्रि के मौके पर आप मातारानी के समक्ष रखना चाहते हैं, तो नवरात्रि में अपनी राशि के अनुसार विशेष मंत्र (Mantra) का जाप जरूर कीजिएगा. इससे आप माता को शीघ्र प्रसन्न कर पाएंगे. यदि माता प्रसन्न हो गईं तो आपको इच्छित फल की प्राप्ति जरूर होगी.

मेष: 12 राशियों में पहली राशि है मेष. इस राशि के लोग नवरात्रि के पहले दिन से आखिरी दिन तक ॐ ह्रीं उमा देव्यै नम: या फिर ॐ महायोगायै नम: मंत्र का जाप करें. हर दिन कम से कम एक माला जाप करना जरूरी है. इसके अलावा आप श्रद्धानुसार 5, 7, 9, 11, 21 आदि जितनी चाहें, उतनी मालाएं कर सकते हैं.

वृष: वृष राशि वाले अपनी कामना की पूर्ति के लिए ॐ क्रां क्रीं क्रूं कालिका देव्यै नम: या ॐ कारक्यै नम: मंत्र का जाप करें. शीघ्र ही आपका मनोरथ सिद्ध होगा.

मिथुन: इस राशि के लोग नवरात्रि में नौ दिनों तक रोज ॐ दुं दुर्गायै नम: या फिर ॐ घोराये नम: मंत्र का जाप कम से कम एक माला जरूर करें.

कर्क: कर्क राशि के लोग मां भगवती को प्रसन्न करने के लिए ॐ ललिता देव्यै नम: या ॐ हस्त्नीयै नम: मंत्र का जाप रोजाना कम से कम 108 बार जरूर करें.

सिंह: चैत्र नवरात्रि के समय सिंह राशि के लोग मातारानी की कृपा प्राप्त करने के लिए ॐ ऐं ह्रीं क्लीं महासरस्वती देव्यै नम: या ॐ त्रिपुरांतकायै नम: मंत्र का जाप करें.

कन्या: इच्छित वर प्राप्ति के लिए कन्या राशि के लोग नवरात्रि में ॐ शूल धारिणी देव्यै नम: या ॐ विश्वरुपायै नम: मंत्र का जाप करें. इससे आपकी कामना जरूर पूरी होगी.

तुला: तुला राशि वाले पूरी श्रद्धा और भक्ति के साथ ॐ ह्रीं महालक्ष्म्यै नम: या ॐ रोद्रवेतायै नम: मंत्र का जाप कम से कम 108 बार जरूर करें. इससे माता शीघ्र प्रसन्न होंगी.

वृश्चिक: वृश्चिक राशि के लोग नवरात्रि में मां दुर्गा के मंत्र ॐ शक्तिरूपायै नम: या ॐ क्लीं कामाख्यै नम: का जाप करें. रोजाना एक माला जाप करने से भी माता की असीम कृपा प्राप्त हो सकती है. .

धनु: धनु राशि वाले लोग नवरात्रि के दौरान ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे या फिर ॐ गजाननाय नम: मंत्र का जाप करें. नियमित रूप से ऐसा करने से काफी लाभ मिलेगा.

मकर: मकर राशि के लोग चैत्र नवरात्रि के समय में ॐ पां पार्वती देव्यै नम: या ॐ सिंहमुख्यै नम: मंत्र का जाप करें. मां दुर्गा की कृपा जल्द ही प्राप्त होगी.

कुंभ: कुंभ राशि के लोग भी ॐ पां पार्वती देव्यै नम: या ॐ सिंहमुख्यै नम: मंत्र का जाप करें क्योंकि कुंभ और मकर दोनों के स्वामी शनि हैं.

मीन: मीन राशि के लोग इस बार नवरात्रि पर मां दुर्गा के मंत्र ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं दुर्गा देव्यै नम: का जाप करें. इससे उन्हें विशेष लाभ होगा.

(यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं, इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)