गोबर बीनकर कोरोना योद्धाओं ने किया विरोध प्रदर्शन... सेवा वृद्धि की मांग को लेकर रहें है आंदोलन...

गोबर बीनकर कोरोना योद्धाओं ने किया विरोध प्रदर्शन... सेवा वृद्धि की मांग को लेकर रहें है आंदोलन...

रायपुर :- सेवा वृद्धि की मांग को लेकर प्रदेश भर के  अस्थाई कोविड 19 कर्मचारियों नें इन दिनों शासन प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है पिछले 4 दिन से आंदोलन रायपुर के  बूढ़ा तालाब पर आंदोलन कर रहे है .आज कोरोना योद्धाओं ने गोबर बीनकर सड़को की सफाई कर अपना विरोध दर्ज किया.


 अस्थाई रूप से कोरोना का में पदस्य किए गए स्वास्थ्य कर्मियों कार्य पर निरंतर रखने की मांग को लेकर 24 अगस्त से पांच दिवसीय धरना प्रदर्शन रायपुर के बूढ़ा तालाब धरना स्थल पर शुरू कर दिये. 24 अगस्त से 28 अगस्त तक चलने वाले इस आंदोलन में प्रदेश के समस्त अस्थाई कोविड कर्मचारी जिसमें डॉक्टर माइक्रोबायोलॉजिस्ट नर्सिंग स्टाफ लैब तकनीशियन फार्मासिस्ट स्वास्थ्य संयोजक वार्ड बॉय कंप्यूटर ऑपरेटर सफाई कर्मी एवं अन्य शामिल है. अस्थायी कोविड कर्मचारी स्वास्थ्य कर्मियों की मांग है कि कोरोना काल के दौरान अस्थाई रूप से भर्ती स्वास्थ्य कर्मियों को कार्य पर निरंतर रखा जाए एवं जिनकी सेवा समाप्त कर दी गई है .उन्हें पुनः कार्य पर निरंतर रखा जाए इन मांगों को लेकर पिछले 4 दिन आंदोलन कर रहे हैं.

आज चौथे दिन में प्रदेश के सभी अस्थायी कोविड  कर्मचारियों ने रायपुर के सड़कों पर झाड़ू लगाकर और गोबर बीनकर कर अपना विरोध प्रदर्शन किया. उनका कहना है कि मेडिकल की पढ़ाई के लिए उन्होंने जमीन बेचकर जेवर गिरवी रख कर पढ़ाई की आज सरकारों ने बेरोजगार कर रहे हैं न्याय की बात करने वाली सरकार आखिर कोरोना योद्धाओं के साथ अन्याय क्यों कर रहे हैं. अगर 5 दिनों के भीतर उनकी मांग पूरी नहीं होती . तो आंदोलन निरंतर जारी रखते हुए उग्र आंदोलन  की चेतावनी.