प्रधानमंत्री सड़क निर्माण में पुल न डालने से किसानों परेशान, बोई गई फसल होगी वर्बाद

प्रधानमंत्री सड़क निर्माण में पुल न डालने से किसानों परेशान, बोई गई फसल होगी वर्बाद

प्रधानमंत्री सड़क निर्माण में पुल न डालने से किसानों परेशान, बोई गई फसल होगी वर्बाद ।

सड़क निर्माण में पुल नही डला तो हर साल किसान किसानी करने से रहेंगे बंचित ।

नौगांव । प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की इस महत्वपूर्ण योजना से केंद्र सरकार द्वारा गॉवों की तस्वीर  और तकदीर बदलने के साथ ग्रामीणों की राह आसान करने के उद्देश्य से ग्रामीण अंचलों में सड़क निर्माण कराया जा रहा है । मगर किसानों को समस्या न हो यह भी योजना में शामिल है । प्रधनमंत्री सड़क निर्माण में
जिम्मेदारों की लापरवाही या अनदेखी के चलते ठेकेदार द्वारा नियमों की अवहेलना कर सड़क निर्माण जारी है जिससे बरसात में किसानों के खेतों में होने बाले जल भराव और पानी निकासी के लिए पुल डालना या पुलिया का निर्माण न कराए जाने से किसान परेशान होकर भटक रहे है ताकि उनकी बोई गई फसल ओर हर साल होने बाली परेशानी से छुटकारा मिल सके जानकारी के अनुसार नौगांव जनपद क्षेत्र के ग्राम नयागांव से बिलहारी बयां सिंगरावन खुर्द तक 4.740 किलोमीटर सड़क का निर्माण हो रहा है और कंट्रक्शन कंपनी के ठेकेदार द्वारा अपने इस्टीमेट के आधर पर पुल पुलियों का निर्माण तो कराया गया मगर नयागांव मोजा में किसान सुखलाल रजक दुर्गेश, राजेश यादव, हरदयाल अहिरवार अमर सिंह यादव,लोटा,जानकी सहित अन्य किसानों की जमीन से सैकड़ो हेक्टेयर जमीन और एक पहाड़िया सहित लगभग दो से तीन किलोमीटर के एरिया के बरसात का पानी सैकड़ो सालों से निकलता रहा जो और महज कुछ ही दूरी पर बने चेकडैम से गुजरकर अलुआ तालाब में पंहुचता था मगर प्रधानमंत्री रोड निर्माण के दौरान इन खेतो से रोड की ऊँचाई करीब 4 से पांच फीट हो गई और पानी निकासी के लिए न ही पुल डाला गया न पुलिया के निर्माण कराया गया जिससे किसानों के खेत तालाब में तपदील होकर लबालब भरने की वजह से बोई गई फसल तो वर्बाद होगी साथ ही हर साल अपने खेंतो की बुबाई से बंचित होना पड़ेगा ऐसे हालात में परिवार के भरणपोषण की चिता सात रही है जिला कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह से विनम्र अपील व आग्रह है कि इस सड़क की जांच कराकर पानी निकासी के लिए उचित पहल की जाए ताकि हम किसानों के एकमात्र साधन किसानी कर अपने बच्चों का भरणपोषण कर सके ।

इनका कहना 

आपके द्वारा जानकारी मिली है किसानों के खेतों में जलभराव से फसलें खराब होती है या जल निकासी के लिए पुल नही डाला गया तो सड़क की जांच कराकर व्यवस्था कराई जाएगी ताकि किसानों को परेशानी न हो सके ।

के के खरे एसडीओ प्रधानमंत्री सड़क योजना छतरपुर ।