सावन में वास्तुदोष को दूर करने के लिए अपनाएं ये उपाय...

सावन में वास्तुदोष को दूर करने के लिए अपनाएं ये उपाय...

सावन का महीना चल रहा है. इस महीने में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा होती है. शिवभक्त साल भर इस महीने का इंतजार करते हैं. भगवान शिव को सावन बहुत प्रिय हैं. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, सावन के महीने में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है. हिंदू धर्म में सावन का महीना बहुत पावन होता है.

कई लोग सोमवार के दिन वास्तु दोष को दूर करने के लिए कई उपाय करते हैं. वास्तुशास्त्र हिंदू धर्म और पुराणों पर आधारित है. आज हम आपको कुछ वास्तु उपायों के बारे में बताएंगे. जिनका सीधा संबंध भगवान शिव से होता है. इन उपायों को करने से घर में सुख- समृद्धि आती है. आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में.

रूद्राक्ष

रूद्राक्ष सबसे पवित्र चीजों में से एक है. हिंदू धर्म में रूद्राक्ष का विशेष महत्व होता है. रूद्रात्र का सीधा संबंध रूद्र यानी भगवान शिव से होता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार, सोमवार के दिन रूद्राक्ष को घर के मुख्य कमरे में रखना चाहिए. इस उपाय को करने से धन संबंधी समस्याएं कम हो जाती है. इससे आपको लाभ मिलता है.

गंगाजल

भोलेनाथ ने माता गंगा को अपनी जटाओं में समाहित किया है, इसलिए उन्हें गंगाधर भी कहा जाता है. सावन में सोमवार के दिन गंगाजल को लाकर किचन में रखना चाहिए. ऐसा करने से घर में सुख- समृद्धि में वृद्धि होती है.

चांदी का त्रिशूला

त्रिशूल भगवान शिव का अस्त्र है. वास्तु शास्त्र के मुताबिक, सावन में सोमवार को चांदी का त्रिशूला लाकर अपने घर के मंदिर में रख दें. ऐसा करने से आपके सभी कष्ट और दुख दूर हो जाएंगे.

नाग- नागिन का जोड़ा

भगवान शिव नागदेवता को अपने गले में आभूषण की तरह लपेट कर रखते हैं. इसलिए उन्हें विषधर भी कहा जाता है. सावन में सोमवार को चांदी के नाग- नागिन का जोड़ा लाएं और घर के मन गेट के अंदर दबा दें. इस उपाय को करने से नकारात्मक उर्जा दूर हो जाएगी.

नोट- यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं, इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.