मोबाइल बनाने वाली सैमसंग कंपनी पर 109 करोड रुपए का जुर्माना

मोबाइल बनाने वाली सैमसंग कंपनी पर 109 करोड रुपए का जुर्माना

Samsung ने अपने ग्राहकों से झूठा दावा किया, कंपनी ने बताया कि पानी में भीगने पर Samrtphone खराब नही होगा. जांच में ये दावा गलत पाए जाने पर Samsung को 109 करोड़ रुपये का जुर्माना लगा है. सैमसंग को अब 14 मिलियन डॉलर भारतीय रुपये में 109 करोड़ से ज्यादा चुकाने होंगे.

ऑस्ट्रेलियाई प्रतिस्पर्धा और उपभोक्ता आयोग (ACCC) ने Samsung Galaxy Smartphone गैलेक्सी S7, S7 Edge, A5 (2017), A7 (2017), S8, S8 Plus और Note 8 सैमसंग गैलेक्सी फोन के वॉटर रेजिस्टेंस के बारे में झूठे या भ्रामक दावे पर जुर्माना लगाया है.

Samsung ने फोन के Software चेंज किए

कंपनी फाइन भरने के लिए तैयार हो गया है. और अब कंपनी ने पानी के प्रतिरोध का प्रदान करने के लिए अपने फोन में सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर परिवर्तन भी किए हैं.

ताजे पानी और खारे पानी का फर्क नही बताया

विज्ञापन में कहा गया था कि यह 30 मिनट तक पानी में रहने पर फोन वाटर रेसिस्टेंट थे. सैमसंग ने ऐड में गैलेक्सी फोन को स्विमिंग पूल में डुबोए जाने का भी चित्रण किया गया है. विज्ञापन ऑस्ट्रेलिया में राष्ट्रीय टीवी पर प्रसारित किए गए थे. ये स्मार्टफोन केवल ताजे पानी में पानी प्रतिरोधी थे, समुद्री जल के खारे पानी में नहीं. ऐसी परिस्थितियों में चार्जिंग पोर्ट में जंग लगने की संभावना थी.