Monkeypox Virus: कोरोना की तरह फैलने का ‘खतरा’, दुनिया के इन 11 देशों तक पहुंचा मंकीपॉक्स वायरस, देखिए कहां कितने केस मिले

Monkeypox Virus Cases Countries List: मंकीपॉक्स वायरस दुनिया के कई देशों तक पहुंच गया है, जिनमें अधिकतर यूरोपीय देश शामिल हैं. इस बीमारी में शरीर पर लाल चकत्ते हो जाते हैं.

Monkeypox Virus: कोरोना की तरह फैलने का ‘खतरा’, दुनिया के इन 11 देशों तक पहुंचा मंकीपॉक्स वायरस,  देखिए कहां कितने केस मिले
Image Credit Source: File Photo

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने कहा कि 11 देशों में मंकीपॉक्स वायरस के 80 मामलों की पुष्टि हुई है. एजेंसी ने चेतावनी देते हुए कहा कि इसकी निगरानी और जांच बढ़ा दी गई है, इसलिए और अधिक मामले सामने आ सकते हैं. डब्ल्यूएचओ ने कहा कि इस असामान्य वायरस (Monkeypox Virus) के मामले आमतौर पर पश्चिम और मध्य अफ्रीका के कुछ हिस्सों में जानवरों में पाए जाते थे. इसके मामले कभी कभार स्थानीय लोगों या फिर पर्यटकों में पाए जाते हैं. लेकिन अब चिंता की बात ये है कि मंकीपॉक्स के मामले प्रमुख यूरोपीय देशों और कनाडा, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में भी मिले हैं. यह कोरोना वायरस महामारी के बीच दुनियाभर में फैलता जा रहा है.

किन देशों में मिले मंकीपॉक्स के मामले?

  1. स्पेन में 31 मामलों की पुष्टि हुई है, जिनमें से 24 शुक्रवार को सामने आए हैं. कई मामले मैड्रिड क्षेत्र में सामने आए हैं और स्टीम बाथ पर रोक लगा दी गई है.
  2. पुर्तगाल में 23 मामलों की पुष्टि हुई है. नेशनल हेल्थ अथॉरिटी ने कहा कि सभी मरीजों की जांच चल रही है. लेकिन किसी को भी अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया है. उनकी हालत स्थिर है.
  3. नीदरलैंड में शुक्रवार को पहला मामला दर्ज किया गया है. सरकारी हेल्थ एजेंसी ने चेतावनी दी है कि संक्रमण के और मामले सामने आएंगे.
  4. इजरायल में भी इसका एक संभावित मामला सामने आया है. यहां 30 साल का शख्स हाल में ही पश्चिमी यूरोपीय देश की यात्रा करके लौटा है. उसमें इस बीमारी के लक्षण दिख रहे हैं. वह फिलहाल स्थिर अवस्था में है.
  5. जर्मनी में भी मंकीपॉक्स वायरस का पहला मामला मिला है. यहां बवेरियन क्षेत्र में एक व्यक्ति को त्वचा में संक्रमण हो गया है. शुक्रवार को देश की आर्म्ड फॉर्सेज मेडिकल सर्विस के हवाले से बताया गया है, यह मंकीपॉक्स का यूरोप में देखा गया सबसे बड़ा और तेजी से फैलने वाला संक्रमण है.
  6. बेल्जियम में तीन मामलों की पुष्टि हुई है और सभी बंदरगाह शहर एंटवर्प के गे फेटिश फेस्टिवल से जुडे़ हुए हैं. यहां गे और बाइसेक्सुअल पुरुषों में संक्रमण के फैलने का खतरा बढ़ गया है. इस मामले में विश्व स्वास्थ्य संगठन पहले ही चेतावनी जारी कर चुका है.
  7. ब्रिटेन में मंकीपॉक्स वायरस के कम से कम 20 मामलों की पुष्टि हुई है. स्वास्थ्य सचिव साजिद जाविद ने शुक्रवार को कहा कि अधिकतर मामले हल्के हैं और उनका देश चेचक की वैक्सीन की व्यवस्था कर रहा है, जो इस बीमारी से सुरक्षा प्रदान करती है. ब्रिटेन की हेल्थ सिक्योरिटी एजेंसी ने भी कहा है कि अधिकतर मामले गे और बाइसेक्सुअल पुरुषों में मिले हैं.
  8. फ्रांस में पहला मामला 29 साल के शख्स में मिला है, जो इले डी फ्रांस का रहने वाला है. स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि मरीज हाल में किसी ऐसे देश में नहीं गया था, जहां वायरस फैल रहा है.
  9. अमेरिका में अब भी इसका एक मामला ही मिला है. यहां कनाडा से लौटा मैसाचुसेट्स का शख्स संक्रमित पाया गया है. जबकि न्यूयॉर्क में दूसरा संभावित मामला मिला है. बाइडेन प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अगले कुछ दिनों में और अधिक मामले मिल सकते हैं लेकिन आम लोगों में इसके फैलने का खतरा बहुत कम है.
  10. इटली में अभी तक तीन मामलों की पुष्टि हुई है, जो रोम के एक ही अस्पताल में मिले हैं. इनमें से एक मरीज ने स्पेन की यात्रा की थी. रोम के अस्पताल के एक डॉक्टर का कहना है कि ऐसा हो सकता है कि यूरोप में सामने आ रहे मामले इंसानों से इंसानों में फैले हैं.
  11. स्वीडन में अभी एक मामले की पुष्टि हुई है.
  12. कनाडा में पांच मामलों की पुष्टि हुई है. ग्लोबल न्यूज ने शुक्रवार को ये जानकारी दी है. पब्लिक हेल्थ एजेंसी कम से कम दो दर्जन संदिग्ध मामलों की जांच कर रही है. मंकीपॉक्स के मामले इससे पहले कभी भी इस देश में सामने नहीं आए हैं.
  13. ऑस्ट्रेलिया में शुक्रवार को मंकीपॉक्स वायरस का पहला मामला सामने आया है, यहां ब्रिटेन की यात्रा से लौटा 30 साल के करीब का मेलबर्न का शख्स संक्रमित हुआ है. जबकि दूसरा मामला 40 साल के करीब उम्र वाले सिडनी के शख्स में मिला है, जिसने यूरोप की यात्रा की थी. स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि दोनों ही मरीजों में हल्के लक्षण हैं.