सड़क की मांग को लेकर दिन भर डटे रहे हजारों ग्रामीण...! आगामी दिनों में होगा अनिश्चितकालीन आर्थिक नाकेबंदी..! सड़कों में अब "सावधान सड़क है" के बोर्ड लगानें की आवश्यकता...! देखें वीडियो...

सड़क की मांग को लेकर दिन भर डटे रहे हजारों ग्रामीण...! आगामी दिनों में होगा अनिश्चितकालीन आर्थिक नाकेबंदी..! सड़कों में अब "सावधान सड़क है" के बोर्ड लगानें की आवश्यकता...! देखें वीडियो...

रायगढ़/ जर्जर को सड़क को सुधारने व रायगढ़ से मिलुपारा तक व हुंकराडीपा से हमीरपुर बॉर्डर तक फोरलाईन सड़क की मांग को लेकर रायगढ़ जिले के तमनार ब्लॉक के हुंकराडीपा चौक में एक दिवसीय चक्का जाम का आयोजन तमनार जनपद पंचायत के सदस्यों के नेतृत्व की आयोजित की गई, जो सुबह 10 बजे से  शाम 4 बजे तक आयोजित रहे जिसमें हजारों की संख्या में ग्रामीण चक्का जाम और आन्दोलन को सफल बनाने में उपस्थित रहे ।

सुबह 10 बजे से ही ट्रकों के पहिए थम गए, जिसके पश्चात शाम से फिर तेज रफ्तार व प्रदुषण के साथ ट्रक फिर  दौड़ने लगे,जिले की जर्जर सड़क से लगातार राहगीर हादसों के शिकार होते रहते हैं साथ ही सड़कों पर हैवीलोड़ वाहनों के दौड़ने के पश्चात धुल उड़ने से सड़को  पर अंधेरा छा जाती है।

पूर्व मंत्री सत्यानंद राठिया ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि सड़क की  जो दुर्दशा बनी हुई है  उससे समझ यह  नहीं आता है की सड़कों में गढ्ढो है या सड़क सड़क में गड्ढे, रायगढ़ जाने में 1 घंटे के बजाय अब ढाई घंटे लगने लगे हैं,आज का आंदोलन केवल एक दिवसीय न तो शासन प्रशासन के लोग और ना ही उद्योग प्रबंधन के लोग हमसे सुखद पटाक्षेप करने आए  और ना ही किसी प्रकार की उचित हल निकालने के लिए बात करने आए इससे केवल यह सिद्ध होता है कि केवल खनिज का दोहन करेंगे और क्षेत्र की जनता का शोषण करेंगे।  कम से कम यहां आकर  सड़क के गड्ढों कों भरने का आश्वासन तो दे दिया होता।  फोर लाइन सड़क की मांग को लेकर हम लोग आज आंदोलन कर रहे, साथ ही प्रदूषण का स्तर भी बढ़ते जा रहे हैं, जब से कांग्रेस की सरकार आई है तब से सड़के जर्जर होने लगी है सरकार सड़क पर ध्यान ही नहीं दे रही है। आज तो केवल एक दिवशी चक्का जाम था आने वाले दिनों में अनिश्चितकालीन आर्थिक नाकेबंदी की  भी  जाएगी ।

चक्का जाम के दौरान मंच से निशाना साधते हुए गोकुलानंद पटनायक ने कहा कि कुछ समय पूर्व सड़कों पर सावधान गड्ढे हैं... सावधान सकरी पुलिया है...कि बोर्ड लगे रहते थे लेकिन आज स्थिति इस प्रकार की हो गई है कि अब बोर्ड लगा देना चाहिए कि सावधान सड़क है

तमनार मंडल के अध्यक्ष जतिन साव  व रोडोंपाली मंडल के बंशीधर चौधरी ने कहा यह सरकार केवल कका और बबा में भूल गई है,  छत्तीसगढ़ विकास से कोसो दुर होते जा रहा है, छत्तीसगढ़ में जितने भी सड़क बनी है वह  भाजपा के शासन में बनी लेकिन उन सड़कों  का जतन भी वर्तमान में की सरकार नहीं कर पा रही है।

भाजपा युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष विनायक पटनायक ने कहा कि भूपेश बघेल ने इतिहास रच दिया है, किसी सड़क की टेंडर होने की पूर्व भूमि पूजन करना इतिहास है...  आज तक सड़कों की टेंडर हो जाने के पश्चात ही भूमि पूजन होती थी  लेकिन अब पता नहीं पूजन तो हो गई  है लेकिन सड़क कब बन पाए गी । हमारे क्षेत्र की जनता केवल प्रदूषण की मार खा रही है सड़कों पर दौड़ते हेवी लोड लोड गाड़ियों से धूल उड़ कर लोगों के कपड़े सहित शरीर के अंदर प्रवेश कर रहे हैं।

रोडोंपाली  मंडल के महामंत्री प्रताप नारायण बेहरा ने कविता के माध्यम से प्रदेश के मुखिया को सड़कों के हाल जानने बुलाया। मुखिया जी कभी रायगढ़ आना कविता गुनगुनाई।

जनपद पंचायत तमनार के सदस्यों ने कहा कि तमनार ब्लॉक के उद्योगों की सीएसआर की राशि जो दूसरे जिलों में खर्च की जा रही है ।उसे आसपास के प्रभावित गांव में खर्च की जाए व सड़क को मरम्मत की जाए, उस राशि से सड़क बनाई जाए।

जागेश सिदार  ने मीडिया से चर्चा करते हुए बताया की आज के आंदोलन एक दिवसीय थी जो पूर्ण रूप से सफल रही हजारों की संख्या में क्षेत्रीय ग्रामीण आंदोलन को सफल बनाने में पहुंचे । आगामी दिनों में हम फोर लाईन सड़क की मांग को लेकर  अनिश्चितकालीन  आंदोलन करंगे जब तक हमारी मांग पूरी नहीं होगी,  शासन प्रशासन के लोग उचित निराकरण निकालने के लिए आज हमसे बात करने नहीं आए। कार्यक्रम का सफल संचालन रमेश बेहरा व  जागेश सिंह सिदार ने किया ।

आंदोलन के दौरान एक बार निराकरण करने की की गई कोशिश में तमनार नायब तहसीलदार अनुराधा पटेल, तमनार थाना प्रभारी व रायगढ़ पी डब्लू डी अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिधी।