PACL कंपनी का फरार डायरेक्टर अनुराग शर्मा गिरफ्तार... 72 एकड़ जमीन कुर्की की कारवाही कर निवेशकों में किया जाएगा भरपाई

PACL कंपनी का फरार डायरेक्टर अनुराग शर्मा गिरफ्तार... 72 एकड़ जमीन कुर्की की कारवाही कर  निवेशकों में किया जाएगा भरपाई

  दुर्गा प्रसाद सेन

 बेमेतरा-  मुख्यमंत्री द्वारा दिये गये निर्देशो के पालन में ओ.पी.पाल पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज एवं पुलिस अधीक्षक बेमेतरा धर्मेन्द्र सिंह द्वारा विशेष टीम गठित कर चिटफंड कंपनियों के विरूद्ध लगातार कार्यवाही की जा रही है इसी तारतम्य में पीएसीएल कंपनी के डायरेक्टरो की धरपकड एवं उनके सम्पत्ति की पता साजी ह। आरोपी मोहाली पंजाब में होने की सूचना मिली थी जहां से पुलिस हिरासत में लेकर पुछताछ हेतु आरोपी को बेमेतरा लया गया।

आरोपी अनुराग शर्मा द्वारा बताया गया कि मिस्टर पुरी एवं निर्मल सिंह भंगु द्वारा उक्त कंपनी का गठन किया गया था जिसमें छ.ग. एवं अन्य राज्य के निवेशको से कई हजार करोडो रूपये एकत्रित किये गये, जिससे देश के विभिन्न भागो में संपत्तियाँ खरीदी गई। जिस पर सेबी द्वारा विक्री पर रोक लगा रखी है फिर भी उक्त संपत्तियो को धोखाधडी कर आरोपी अनुराग शर्मा उसके मित्र विकास पुरी, निरज बिर्दी के साथ मिलकर बेचने की जिम्मेदारी दी गई है।

आरोपी अनुराग शर्मा द्वारा यह भी बताया गया कि पीएसीएल कंपनी के द्वारा निवेशको के पैसे से मुम्बई, दिल्ली, मसुरी एवं देश के अन्य स्थानो पर विभिन्न फर्जी कंपनी बनाकर खरीदी गई है। जिसमें सुनील मंचंदा निवासी दिल्ली के द्वारा जुहू मुम्बई में बंगला एवं होटल खरीदा गया है एवं विपिन अग्रवाल नोएडा द्वारा पीएसीएल कंपनी के पैसे को होटल मसुरी में खरीदा गया है, आकाश नागिया निवासी दिल्ली द्वारा भी निवेशको के पैसो से तीन होटल खरीदे गये।

जीरकपुर पंजाब एवं गोवा में खरीदे गये है आरोपी के पास से कंपनी के एक मरसीडीज कार CH 04 A 7664 के कागजात भी प्राप्त हुये है जिसे शीघ्र ही जप्त कर लाया जायेगा। उक्त प्रकरण में एक अन्य आरोपी गुरजन सिंह गिल की तलासी हेतु टीम भेजी गई थी पुलिस टीम द्वारा गुरूजन सिंह गिल के पास मोहाली पंजाब में दो बंगले जो निवेशको के पैसो से खरीदे गये है जिसकी कुर्की की कार्यवाही हेतु जिला कलेक्टर बेमेतरा के द्वारा प्रक्रिया धीन है जिसकी अनुमानीत कीमत 30 करोड बताई गई है जिससे छ.ग. एवं बेमेतरा जिले के निवेशको के 157 करोड की भरपाई की जा सकेगा