अफगानिस्तान से नागरिकों को निकालने में जुटा US, कहा- 14 अगस्त से अब तक 9000 लोगों को निकाला गया बाहर

तालिबान की अफगानिस्तान में वापसी के बाद अमेरिका अपने नागरिकों को वहां से बाहर निकाल रहा है. व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने बताया है कि 14 अगस्त से अभी तक 9000 लोगों को बाहर निकाला जा चुका है.

अफगानिस्तान से नागरिकों को निकालने में जुटा US, कहा- 14 अगस्त से अब तक 9000 लोगों को निकाला गया बाहर
अफगानिस्तान से बाहर निकाले जा रहे लोग

अमेरिका (America) अपने नागरिकों, अफगानी नागरिकों समेत अन्य लोगों को अफगानिस्तान (Afghanistan) से बाहर निकाल रहा है. तालिबान (Taliban) के युद्धग्रस्त मुल्क पर कब्जे के बाद से ही हालात काफी बिगड़ चुके हैं. ऐसे में अमेरिका तेजी से लोगों को बाहर निकालने में जुटा हुआ है. व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने बताया है कि 14 अगस्त से अभी तक अफगानिस्तान से 9000 लोगों को बाहर निकाला जा चुका है. वहीं, अकेले 19 अगस्त को ही 3000 लोगों को युद्धग्रस्त मुल्क से सुरक्षित बाहर निकाला गया है. तालिबान के कब्जे के बाद से ही दुनियाभर के मुल्क अपने नागरिकों को देश से बाहर निकालने में जुटे हुए हैं.

व्हाइट हाउस (White House) अधिकारी ने कहा, ’19 अगस्त को अमेरिका ने काबुल एयरपोर्ट (Kabul Airport) से 16 C-17 ग्लोबमास्टर उड़ानों के जरिए लगभग 3,000 लोगों को बाहर निकाला. इसमें लगभग 350 अमेरिकी नागरिकों को निकाला गया. बाहर निकाले गए अतिरिक्त लोगों में अमेरिकी नागरिकों के परिवार के सदस्य, एसआईवी आवेदक और उनके परिवार और अफगान शामिल हैं.’ अधिकारी ने कहा, ‘पिछले 24 घंटों में अमेरिकी सेना ने 11 चार्टर उड़ानों को भेजा है. हमने 14 अगस्त से अब तक लगभग 9000 लोगों को निकाला है. जुलाई के अंत से हमने लगभग 14000 लोगों को बाहर निकाला है.’

अमेरिका समेत कई देश अपने नागरिकों को निकाल रहे बाहर

तालिबान ने रविवार को अफगानिस्तान पर कब्जा जमा लिया था. 20 साल तक चले युद्ध के बाद देश से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बीच तालिबान को अचानक मिली जीत से काबुल एयरपोर्ट पर अव्यवस्था की स्थिति उत्पन्न हो गई जहां से अमेरिका और संबद्ध देश अपने हजारों नागरिकों और सहयोगियों को सुरक्षित बाहर निकालने की कोशिश में जुटे हुए हैं. सैन्य अभियान जांच कमान के कमांडिंग जनरल, मेजर जनरल हैंक टेलर ने कहा, अमेरिका की बची हुई सैन्य टुकड़ियां और काबुल में मैदान पर अब 5,200 से अधिक सैनिक हैं. काबुल एयरपोर्ट उड़ान अभियानों के लिए सुरक्षित एवं खुला हुआ है.

अफगानिस्तान से बाहर निकाले जाने वाले लोगों को नहीं होगी कोरोना जांच

वहीं, अफगानिस्तान भले ही कोरोनावायरस वैश्विक महामारी का बड़ा केंद्र रहा हो. लेकिन अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वहां से निकाले जा रहे लोगों को यात्रा के लिए कोविड-19 जांच की नेगेटिव रिपोर्ट देनी जरूरी नहीं होगा. मंत्रालय ने कहा, अमेरिकी सरकार द्वारा अफगानिस्तान से निकाले जा रहे सभी व्यक्तियों के लिए कोविड जांच के संबंध में एक व्यापक मानवीय छूट लागू की गई है. गौरतलब है कि अफगानिस्तान से बाहर निकाले गए अधिकतर लोगों को कतर ले जाया रहा है. इसके अलावा, कई मुल्कों ने अपने यहां नागरिकों को शरण देने की बात भी कही है. इसमें ब्रिटेन भी शामिल है.