स्‍वामी प्रसाद मौर्य संग हुंकार भरने के बाद फंसे अखिलेश यादव, भारी भीड़ जुटने पर लखनऊ DM ने दिए जांच के आदेश

बीजेपी के बड़े नेता लगातार सपा में शामिल हो रहे हैं. इस बीच समाजवादी पार्टी कार्यालय (Lucknow SP Office) में आज कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ जुट गई.

स्‍वामी प्रसाद मौर्य संग हुंकार भरने के बाद फंसे अखिलेश यादव, भारी भीड़ जुटने पर लखनऊ DM ने दिए जांच के आदेश

विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) की तारीखों के ऐलान के बाद दल-बदल की राजनीति तेज हो गई है. बीजेपी के बड़े नेता लगातार सपा में शामिल हो रहे हैं. इस बीच समाजवादी पार्टी कार्यालय (SP Office) में आज कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ जुट गई. आचार संहिता के उल्लंघन के बीच बड़ी पार्टी कार्यालय में संख्या में भीड़ जुटने पर चुनाव आयोग ने संज्ञान लिया है. लखनऊ डीएम (Lucknow DM) अभिषेक प्रकाश का कहना है कि बिना अनुमति समाजवादी पार्टी की रैली हो रही है. उन्होंने कहा कि मामला संज्ञान में आते ही पुलिस टीम एसपी कार्यालय भेजी गई है. पुलिस को मामले में जरूरी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं.

लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश ने TV9 से बातचीत में कहा कि बिना परमिशन सपा कार्यालय में रैली (SP Rally) करने की बात संज्ञान में आते ही उनकी टीम वहां पहुंची है. पुलिस (UP Police) के सीनियर अधिकारियों के साथ ही चुनाव आयोग के सीनियर अधिकारी भी वहां पर मौजूद हैं. लखनऊ के डीएम ने कहा कि रिपोर्ट आते ही नियम संगत कार्रवाई की जाएगी.

बिना परमिशन सपा ऑफिस में हुई रैली’

बता दें कि कोरोना की तीसरी लहर के बीच चुनाव आयोग ने फिजिकल रैली पर पूरी तरफ से रोक लगा दी है. लेकिन इसके बावजूद भी चुनाव आयोग के नियमों की अनदेखी करते हुए अखिलेश यादव ने लखनऊ में एक बड़ी रैली की. बीजेपी से सपा में शामिल हुए स्वामी प्रसाद मौर्य संग हुंकारभर उन्होंने चुनाव आयोग के नियमों को पूरी तरह से ताक पर रख दिया. इस दौरान वहां पर हजारों की संख्या में भीड़ जुटी. आचार संहिता के उल्लंघन के बाद चुनाव आयोग के मामले पर संज्ञान लिया है.