UAE ने क्यों लिया हफ्ते में साढ़े चार दिन की शिफ्ट का फैसला, जानिए बाकी देशों में कैसे अलग-अलग है सिस्टम?

UAE 4 and Half Day work Week: यूनाइटेड अरब अमीरात में साढ़े 4 दिन एक सप्‍ताह में काम करने का नियम 1 जनवरी से शुरू हो जाएगा. इस तरह यूएई दुनिया का पहला देश बन जाएगा, जहां इस तरह का ये अनूठा नियम लागू होगा.

UAE ने क्यों लिया हफ्ते में साढ़े चार दिन की शिफ्ट का फैसला, जानिए बाकी देशों में कैसे अलग-अलग है सिस्टम?

UAE 4 and Half day work week: जो लोग भारत में नौकरीपेशा हैं, वे केवल 5 डे वीक की कल्‍पना ही कर सकते हैं. यानि 5 दिन काम और दो दिन आराम, लेकिन इसके इतर और इससे आगे बढ़ते हुए यूनाइटेड अरब अमीरात (UAE) ने एक नई शुरुआत की है. UAE में अब साढ़े दिन एक सप्‍ताह के अंदर काम करना होगा. 

UAE की ओर से ये बयान आया है कि ये फैसला लोगों के काम और जिंदगी के बीच बैलेंस बनाएगा. यूनाइटेड अरब अमीरात में साढ़े 4 दिन एक सप्‍ताह में काम करने का नियम 1 जनवरी से शुरू हो जाएगा. इस तरह यूएई दुनिया का पहला देश बन जाएगा, जहां इस तरह का ये अनूठा नियम लागू होगा. इसके तहत यूएई में सरकारी कर्मचारी शुक्रवार को आधे दिन तक काम करेंगे.

जो परंपरागत रूप से मुस्लिम धर्म को मानने वाले लोगों के लिए अवकाश का दिन भी रहता है. ऐसे में ये देखना भी अहम होगा कि क्‍या यूएई में प्राइवेट इंडस्‍ट्री और स्‍कूल इस नियम का पालन करेंगे या नहीं. हालांकि 2006 में उन्‍होंने उस नियम का पालन किया था, जब यूएई में सप्‍ताह शनिवार से बुधवार के बीच शुरू किया गया था. जो कि इस्‍लामिक वर्क वीक माना जाता है, इस तरह की व्‍यवस्‍था ईरान और अफगानिस्‍तान में लागू है. 

अमीरात सरकार ने क्‍या कहा ?

यूनाइटेड अरब अमीरात सरकार ने अपने इस कदम की प्रशंसा की है, उन्‍होंने कहा कि यूएई दुनिया के उन देशों में शुमार हो गया है. जहां नेशनल वर्किंग वीक की शुरुआत हुई है. अपने बयान में कहा अमीरात सरकार ने कहा इससे लोगों की नौकरीपेशा लोगों की जिदंगी में घर और आपस में सामंजस्‍य दिखेगा. इससे लोग भी खुश रहेंगे और उनका नौकरी करने में और मन लगेगा. 

और किन देशों में शॉर्ट वर्किंग वीक

पिछले महीने यूके में भी 4 दिन के वर्क वीक की शुरुआत हुई है. इसे यूके में मौजूद एटम बैंक ने शुरू किया. एटम बैंक में 430 लोग काम करते हैं. 

न्‍यूजीलैंड में Perpetual Guardian नाम की फर्म है, यह भी 4 दिन वर्क लागू कर चुकी है. 

अमेरिका के उटाह में साल 2009 में 4 दिन के वर्किंग वीक का की शुरुआत हुई थी. हालांकि सितंबर 2011 में इसे बंद कर दिया गया था. 

स्‍वीडन में वहां की सरकार ने एक दिन में 6 घंटे काम करने के लिए 8 घंटे के पैसे देने की व्‍यवस्‍था की थी. स्‍वीडन की सरकार ने माना कि इससे लोगों की प्रोडक्टिविटी भी बढ़ गई, हालांकि सरकार ने माना कि यह व्‍यवस्‍था थोड़ी महंगी है. 

फ्रांस में नौकरी करने वाले लोगों के लिए कानून बनाया था कि तय घंटों के बाद कोई काम नहीं होगा. फ्रांस में वर्कवीक में केवल 35 घंटे ही काम करना होता है. 

केपीएमजी ने अमेरिका के अपने कर्मचारियों के लिए 4 डे वर्कवीक की शुरुआत की थी. 

2016 में अमेजन ने पायलट प्रोजेक्‍ट के हतत एक सप्‍ताह में 30 घंटे काम के लिए सुनिश्‍चित किए थे.